Only Hindi News Today

शारजाह
मुख्य कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने कहा है कि चेन्नै सुपर किंग्स के डेथ ओवरों की गेंदबाजी के विशेषज्ञ ड्वेन ब्रावो ग्रोइन की चोट के कारण ‘कुछ दिनों या कुछ हफ्तों’ के लिए इंडियन प्रीमियर लीग से बाहर हो सकते हैं। ब्रावो शनिवार को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ अंतिम ओवर में गेंदबाजी नहीं कर पाए जिसमें विरोधी टीम ने जरूरी 17 रन बनाकर जीत दर्ज की।

फ्लेमिंग ने कहा, ‘ऐसा लगता है कि उसकी (ब्रावो की) दायीं ग्रोइन में चोट है, बेशक यह इतनी गंभीर है कि वह दोबारा गेंदबाजी के लिए मैदान पर नहीं आ पाए, वह निराश हैं कि वह अंतिम ओवर नहीं फेंक पाए।’

फ्लेमिंग ने कहा कि ब्रावो की चोट का आकलन किया जाएगा। मुख्य कोच ने सुपर किंग्स की पांच विकेट की हार के बाद कहा, ‘उनकी चोट का आकलन किया जाएगा, इस समय आप मान सकते हैं कि वह कुछ दिन या कुछ हफ्तों के लिए बाहर हो गए हैं।’

ब्रावो की चोट के कारण सुपर किंग्स को अंतिम ओवर में गेंदबाजी की जिम्मेदारी रविंद्र जडेजा को सौंपनी पड़ी। फ्लेमिंग ने मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘दुर्भाग्य ने ड्वेन ब्रावो चोटिल हो गए इसलिए अंतिम ओवर नहीं फेंक पाए, वह स्वाभाविक रूप से डेथ ओवरों के गेंदबाज हैं, हमारा सत्र इसी तरह चल रहा है, हमें लगातार चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है।’

उन्होंने कहा, ‘जडेजा ने डेथ ओवरों में गेंदबाजी की योजना नहीं बनाई थी लेकिन ब्रावो के चोटिल होने के कारण हमारे पास कोई और विकल्प नहीं था।’

सुपर किंग्स के मुख्य कोच ने कहा कि शिखर धवन ने शानदार पारी खेली लेकिन उन्हें मलाल है कि उन्होंने दिल्ली के इस अनुभवी बल्लेबाज के कैच टपकाए जिससे वह अपना पहला आईपीएल शतक जड़कर अपनी टीम को जीत दिलाने में सफल रहे। उन्होंने कहा, ‘हमने शिखर धवन को कुछ जीवनदान दिए, वह अच्छा खेल रहा था, हमें उसका विकेट जल्द चटकाने का मौका मिला था लेकिन हम इसका फायदा नहीं उठा पाए।’

Source link

Leave a Reply