Only Hindi News Today

नई दिल्ली
पीएम नरेंद्र मोदी ने ‘मिसाइल मैन’ के नाम से मशहूर पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम को आज उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित की। पीएम मोदी ने कहा कि चाहे वह वैज्ञानिक के रूप में हो या राष्ट्रपति के रूप में, राष्ट्र कभी उनके योगदान को नहीं भूल सकता।

पीएम मोदी ने इस मौके पर ट्वीट करके कहा, ‘डॉ. कलाम को उनकी जयंती पर नमन। चाहे वह एक वैज्ञानिक के रूप में हो या फिर राष्ट्रपति के रूप में, देश के विकास में उनके योगदान को भारत कभी भूल नहीं सकता। उनके जीवन का सफर लाखों लोगों को प्रेरणा देता रहेगा।’ पीएम मोदी ने इस ट्वीट के साथ एक वीडियो भी साझा किया जिसमें वह कलाम से जुड़ी यादों की चर्चा और उनके जीवन से मिलने वाली सीख के बारे में बता रहे हैं।

देश के 11वें राष्ट्रपति रहे एपीजे अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्टूबर 1931 को तमिलनाडु के रामेश्वरम में हुआ था। आज उनकी 88वीं जयंती है। पूर्व राष्ट्रपति कलाम को उनकी साधारण जीवन शैली के लिए भी याद किया जाता है। उन्होंने राष्ट्रपति भवन के दरवाजे आम जनता के लिए खोले। इसलिए उन्हें ‘जनता का राष्ट्रपति’ भी कहा जाता है।

डॉ. कलाम की लोकप्रियता और योगदान का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि उनके जन्मदिन यानी 15 अक्टूबर को संयुक्त राष्ट्र हर साल विश्व छात्र दिवस के तौर पर मनाता है। इस दिन स्कूलों में तरह-तरह के कार्यक्रमों का आयोजन होता है। छात्रों के लिए निबंध और भाषण प्रतियोगिताओं का आयोजन होता है।

(न्यूज एजेंसी भाषा से इनपुट्स के साथ)

Source link

Leave a Reply