Only Hindi News Today

नई दिल्ली: ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (BARC) ने न्यूज चैनल रिपब्लिक टीवी नेटवर्क पर गोपनीय संचार का खुलासा करने और उसे गलत तरीके से पेश करने के लिए हमला बोला है.BARC इंडिया ने एक बयान में कहा कि उसने इस मामले में चल रही जांच पर कोई टिप्पणी नहीं की है और वह जांच एजेंसियों को जरूरी मदद मुहैया कर रहा है.

BARC ने अपने बयान में क्या कहा?

बयान में कहा गया है, “BARC ने इस मामले पर जारी जांच को लेकर किसी भी तरह का कोई बयान नहीं दिया है और जांच एजेंसियों को हर संभव मदद दी जा रही है. BARC इंडिया रिपब्लिक टीवी के रवैये से बेहद नाराज है कि उसने प्राइवेट और कॉन्फिडेंशियल बातचीत को सार्वजनिक किया और उसे तोड़ मरोड़कर पेश किया. BARC इंडिया ये साफ करता है कि हमारी तरफ से जांच को लेकर कुछ भी नहीं कहा गया है. ये BARC इंडिया का अधिकार है कि वो रिपब्लिक टीवी के ऐसे व्यवहार के प्रति अपनी असहमति जाहिए करे.”

इससे पहले रिपब्लिक नेटवर्क ने दावा किया था कि चैनल के साथ ई-मेल एक्सचेंज मेंBARC की प्रतिक्रिया मुंबई पुलिस प्रमुख परम बीर सिंह द्वारा लगाए गए आरोपों के विपरीत है. इस महीने की शुरूआत में, मुंबई पुलिस ने कम से कम तीन टीवी चैनलों द्वारा टीआरपी (टेलीविजन रेटिंग पॉइंट) डेटा में हेरफेर करने के एक बड़ी धोखाधड़ी का भंडाफोड़ किया था और इसके संबंध में गिरफ्तारियां भी कीं.

Source link

Leave a Reply