Only Hindi News Today

  • Beti Bachao Beti Padhao Scheme : पढ़ाई में आर्थिक मदद के लिए सुकन्या समृद्धि योजना के तहत कर सकते हैं आवेदन
  • बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना का मकसद लोगों का लड़कियों के प्रति नजरिए में बदलाव लाना है

 

By: Soma Roy

Published: 24 Jul 2020, 05:30 PM IST

नई दिल्ली। एक समय देश में लड़कियों की संख्या में तेजी से गिरावट आ रही थी। क्योंकि भ्रूण हत्याएं तेजी से हो रही थी। ऐसे में लड़कियों को उनका वजूद दिलाने और लोगों को उनकी शिक्षा के प्रति जागरूक करने के मकसद से सरकार ने बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना (Beti Bachao Beti Padhao Scheme) की शुरुआत की। इसके तहत कन्या भ्रूण हत्या रोकथाम (Prevention of gender-biased sex-selective elimination) कन्याओं की सुरक्षा व समृद्धि (Ensuring survival & protection of the girl child) और बालिकाओं की शिक्षा और भागीदारी सुनिश्चित करना (Ensuring education & participation of the girl child) के सिलसिले पर फोकस किया गया। लड़कियों के विकास के लिए सरकार की ओर से 100 करोड़ का बजट भी अनुमानित किया गया।

लड़कियों को आगे बढ़ाने के लिए किशोर न्याय (बालकों की देखरेख और संरक्षण) अधिनियम – 2015 के तहत इस रकम को जुटाया गया। इस योजना के बजटीय नियंत्रण व प्रशासन के लिए महिला एवं बाल विकास मंत्रालय (Ministry of Women & Child Development) को जिम्मेदारी सौंपी गई है। यह योजना 100 जिलों के साथ एक पायलट रूप में शुरू की गई है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य लड़कियों के प्रति लोगों की मानसिकता में बदलाव, उनको शिक्षित करना और नारी सशक्तिकरण है।

जागरूकता के लिए है अभियान
बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के लिए कोई आवेदन नहीं होता है। यह योजना केवल समाज को जागरूक करने के लिए है। जबकि लड़कियों की पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद के लिए सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) के तहत आवेदन किया जाता है। यह योजना 2014 में बालिकाओं के हित के लिए ही शुरू की गई थी। इसमें 10 साल तक की बच्चियों के लिए खाता खुलवाया जा सकता है।आपको अपने नजदीकी बैंक में जा कर फॉर्म भरना होता है। जिसके बाद आपका PM Sukanya Samriddhi Yojana के तहत खाता खुल जाता है।

कैसे कर सकते हैं आवेदन
सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ लेने के लिए आप अपने नजदीकी बैंक या परिवार कल्याण समिति से संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप सरकारी स्कूलों से भी इसकी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। SSY खाता खुलवाने के लिए आपको योजना से संबंधित फॉर्म, आवेदनकर्ता (बालिका) का जन्म प्रमाण पत्र, माता-पिता/अभिभावक का एड्रेस प्रूफ और गार्डियन/माता-पिता के पहचान पत्र की जरूरत होती है।







Show More









Source link

Leave a Reply