Only Hindi News Today

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पटना

Updated Sun, 18 Oct 2020 09:08 AM IST

नीतीश कुमार-तेजस्वी यादव-चिराग पासवान-सुशील कुमार मोदी (फाइल फोटो)
– फोटो : PTI



पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

बिहार में पहले चरण के लिए 28 अक्तूबर को मतदान होगा। ऐसे में सभी पार्टियों ने जोर-शोर से अपना प्रचार अभियान शुरू कर दिया है। प्रचार की शुरुआत के साथ ही आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया है। शनिवार को महागठबंधन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और संकल्प पत्र जारी किया। राजद के नेता तेजस्वी ने रविवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि उनके लिए मुख्यमंत्री की कुर्सी ही पहला और आखिरी सत्य है। तेजस्वी ने कहा कि नीतीश को युवाओं, महिलाओं, वंचितों, किसानों, मजदूरों और छात्रों से कोई मतलब नहीं है। वहीं दूसरी तरफ एनडीए से अलग हुई लोजपा भाजपा के लिए नरमी दिखा रही है तो वहीं जदयू पर निशाना साधने से नहीं चूक रही है। चिराग नीतीश का तो विरोध कर रहे हैं लेकिन भाजपा उम्मीदवार के लिए वोट अपील करने से उन्हें कोई परहेज नहीं है। यहां पढ़ें इससे जुड़े अपडेट्स-

नीतीश के लिए कुर्सी है पहला और आखिरी सच

राजद नेता तेजस्वी यादव ने रविवार को ट्वीट कर कहा, ‘आदरणीय नीतीश कुमार जी थक चुके हैं। येन केन प्रकारेण कुर्सी से चिपक कर उम्र बिताने के सिवाय उनके जीवन का अब कोई ध्येय नहीं है। उन्हें युवाओं, किसानों, मजदूरों, छात्रों, महिलाओं और गरीबों की कोई चिंता नहीं है। वो कुर्सी को ही प्रथम और अंतिम सत्य मान चुके है।’

 

चिराग ने भाजपा उम्मीदवार के लिए मांगे वोट

लोजपा अध्यक्ष और जमुई से सांसद चिराग पासवान ने भाजपा उम्मीदवार श्रेयसी सिंह के लिए वोट मांगे। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘जमुई विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी छोटी बहन श्रेयसी सिंह को ढेर सारी शुभकामनाएं। लोजपा के सभी कार्यकर्ताओं से अपील है की श्रेयसी की मदद करें। भाजपा प्रत्याशी और लोजपा प्रत्याशी ही मिल कर युवा बिहार नया बिहार बनाएंगे। जदयू को दिया गया एक भी वोट शिक्षकों को लाठी खाने पर मजबूर करेगा।’

 

कौन हैं श्रेयसी सिंह

श्रेयसी सिंह अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में केंद्रीय रेल राज्य मंत्री रहे दिवंगत दिग्विजय सिंह की बेटी और राष्ट्रीय स्तर की शूटर (निशानेबाज) रह चुकी हैं। उन्होंने कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था। वे हाल ही में भाजपा में शामिल हुई हैं और पार्टी ने उन्हें जमुई विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में उतारा है। सिंह के माता-पिता दोनों सांसद रह चुके हैं लेकिन बतौर राजनेता ये उनका पहला चुनाव है।

बिहार में पहले चरण के लिए 28 अक्तूबर को मतदान होगा। ऐसे में सभी पार्टियों ने जोर-शोर से अपना प्रचार अभियान शुरू कर दिया है। प्रचार की शुरुआत के साथ ही आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया है। शनिवार को महागठबंधन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और संकल्प पत्र जारी किया। राजद के नेता तेजस्वी ने रविवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि उनके लिए मुख्यमंत्री की कुर्सी ही पहला और आखिरी सत्य है। तेजस्वी ने कहा कि नीतीश को युवाओं, महिलाओं, वंचितों, किसानों, मजदूरों और छात्रों से कोई मतलब नहीं है। वहीं दूसरी तरफ एनडीए से अलग हुई लोजपा भाजपा के लिए नरमी दिखा रही है तो वहीं जदयू पर निशाना साधने से नहीं चूक रही है। चिराग नीतीश का तो विरोध कर रहे हैं लेकिन भाजपा उम्मीदवार के लिए वोट अपील करने से उन्हें कोई परहेज नहीं है। यहां पढ़ें इससे जुड़े अपडेट्स-

नीतीश के लिए कुर्सी है पहला और आखिरी सच

राजद नेता तेजस्वी यादव ने रविवार को ट्वीट कर कहा, ‘आदरणीय नीतीश कुमार जी थक चुके हैं। येन केन प्रकारेण कुर्सी से चिपक कर उम्र बिताने के सिवाय उनके जीवन का अब कोई ध्येय नहीं है। उन्हें युवाओं, किसानों, मजदूरों, छात्रों, महिलाओं और गरीबों की कोई चिंता नहीं है। वो कुर्सी को ही प्रथम और अंतिम सत्य मान चुके है।’

 

चिराग ने भाजपा उम्मीदवार के लिए मांगे वोट

लोजपा अध्यक्ष और जमुई से सांसद चिराग पासवान ने भाजपा उम्मीदवार श्रेयसी सिंह के लिए वोट मांगे। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘जमुई विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी छोटी बहन श्रेयसी सिंह को ढेर सारी शुभकामनाएं। लोजपा के सभी कार्यकर्ताओं से अपील है की श्रेयसी की मदद करें। भाजपा प्रत्याशी और लोजपा प्रत्याशी ही मिल कर युवा बिहार नया बिहार बनाएंगे। जदयू को दिया गया एक भी वोट शिक्षकों को लाठी खाने पर मजबूर करेगा।’

 

कौन हैं श्रेयसी सिंह

श्रेयसी सिंह अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में केंद्रीय रेल राज्य मंत्री रहे दिवंगत दिग्विजय सिंह की बेटी और राष्ट्रीय स्तर की शूटर (निशानेबाज) रह चुकी हैं। उन्होंने कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था। वे हाल ही में भाजपा में शामिल हुई हैं और पार्टी ने उन्हें जमुई विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में उतारा है। सिंह के माता-पिता दोनों सांसद रह चुके हैं लेकिन बतौर राजनेता ये उनका पहला चुनाव है।



Source link

Leave a Reply