Only Hindi News Today

नई दिल्ली: अपने पिता रामविलास पासवान की लंबी बीमारी और फिर मृत्यु के चलते एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान अभी तक बिहार चुनाव में अपने चुनाव प्रचार की शुरुआत नहीं कर पाए हैं. 20 अक्टूबर को रामविलास पासवान की तेरहवीं और श्राद्ध कर्म पूरा करने के बाद 21 अक्टूबर से ही चिराग अपने अभियान की शुरुआत कर पाएंगे.

इसका मतलब यह है कि पहले चरण के प्रचार के लिए उन्हें एक हफ़्ते से भी कम का समय मिल पाएगा. ऐसे में चिराग पासवान हेलीकॉप्टर से चुनाव प्रचार करके ही समय की भरपाई कर पाते, लेकिन वह एक बड़ा क़दम उठाने की तैयारी कर रहे हैं.

एलजेपी सूत्रों ने एबीपी न्यूज़ को बताया है कि अपने चुनाव प्रचार अभियान के दौरान चिराग पासवान अपनी ज़्यादातर यात्रा बस से करने का प्लान बना रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक़ चिराग सीधे से जनता से संवाद करते हुए अपना चुनाव अभियान चलाना चाहते हैं. इसके लिए रोज़ाना एक तय कार्यक्रम और रूट के मुताबिक बस में बैठकर उस रास्ते पर जगह जगह छोटी-छोटी सभाएं आयोजित करने की योजना बन रही है.

इसका फ़ायदा यह होगा कि जिस रास्ते से वह गुजरेंगे उन रास्तों पर वह लोगों का अभिवादन भी स्वीकार करते जाएंगे और ज़रूरत पड़ने पर उनसे रुककर बातचीत भी कर सकेंगे.

हालांकि ऐसा भी नहीं है कि चिराग पासवान हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल बिल्कुल ही नहीं करेंगे. पार्टी सूत्रों का कहना है कि यदा कदा चिराग पासवान ज़रूरत पड़ने पर हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल भी करेंगे.

इस बार पार्टी की ओर से दो हेलीकॉप्टर हायर किए गए हैं. ऐसा पहली बार हुआ है जब पार्टी ने अपनी तरफ़ से हेलीकॉप्टर हायर किया है, वो भी दो. पार्टी सूत्रों के मुताबिक़ चिराग पासवान चाहते हैं कि दोनों हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल पार्टी के अन्य नेता करें. इससे ज़्यादा से ज़्यादा इलाक़े को कवर किया जा सकेगा. पहले चरण में पार्टी 71 में से 42 सीटों पर चुनाव लड़ रही है जबकि कुल मिलाकर 138 सीटों पर उसके उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं.

यह भी पढ़ें:

Exclusive: चिराग पासवान बोले- 10 नवंबर के बाद बिहार के CM नहीं रहेंगे नीतीश कुमार 

Source link

Leave a Reply