Only Hindi News Today

एक महीने पहले

सैंडलवुड ड्रग्स केस में पिछले दिनों 7 से ज्यादा गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। सेंट्रल क्राइम ब्यूरो सीसीबी पुलिस ने मंगलवार को आदित्य अल्वा के घर तलाशी लेने का सर्च वारंट जारी किया। जिसके बाद हेब्बल स्थित हाउस ऑफ लाइव्स यानी कर्नाटक के पूर्व मंत्री जीवराज अल्वा के घर पर तलाशी ली गई। गौरतलब है आदित्य को ड्रग्स सिंडिकेट में आरोपी बनाया गया है। आदित्य बॉलीवुड एक्टर विवेक ओबेरॉय के साले हैं।

अब तक पुलिस की पहुंच से दूर है आदित्य

आदित्य के बारे में सीसीबी के सोर्स का कहना है कि उनका मुख्य आरोपियों के साथ काफी नजदीकी संबंध है और वे तीन पार्टियों में गए भी थे। कोट्टनपेट पुलिस स्टेशन में दर्ज किए गए ड्रग केस में आदित्य को भी आरोपी बनाया गया है। आदित्य ने इसके अलावा कई और पार्टियों में भी हिस्सा लिया था, जहां रागिनी भी थी। यह जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने आदित्य को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन अब तक वे नाकाम हैं।

21 अगस्त से चल रहा है मामला

ऐसा कहा जा रहा है कि आदित्य अपने छिपने की जगह बदलता रहता है और इसके पहले ही उसने अपना फोन स्विच ऑफ कर लिया था। सैंडलवुड ड्रग स्कैंडल की यह कहानी तब सामने आई थी, जब प्रोड्यूसर- डायरेक्टर इंद्रजीत लंकेश ने सीसीबी के सामने आकर इस बात की जानकारी दी थी कि कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री में ड्रग्स का काम चल रहा है। लंकेश ने 15 लोगों के नाम लिए थे।

दो एक्ट्रेस से कस्टडी में

सोमवार को बैंगलुरू कोर्ट ने ड्रग्स मामले में पूछताछ के लिए एक्ट्रेस रागिनी द्विवेदी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। वहीं संजना गलरानी को 3 दिन की पुलिस रिमांड में भेजा गया है। 11 दिन पहले रागिनी, संजना के अलावा लूम पेपर सांबा, राहुल, नियाज रांका, वीरेन, रविशंकर को ड्रग केस के कनेक्शन के तहत अरेस्ट किया गया है। इन सभी से पूछताछ जारी है। इसके अलावा ईडी भी हवाला एंगल से केस की जांच शुरू कर चुका है।

Source link

Leave a Reply