Only Hindi News Today

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) की टीम प्लेऑफ तक का सफर भी तय नहीं कर सकी। आईपीएल के इतिहास में यह पहला मौका था जब महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली सीएसके की टीम प्लेऑफ में जगह नहीं बना पाई। धोनी को दुनिया के सबसे सफल कप्तानों में गिना जाता है। उनकी कप्तानी में टीम इंडिया ने टी20 वर्ल्ड कप, वर्ल्ड कप और चैंपियंस ट्रॉफी खिताब जीता है। इसके अलावा धोनी की कप्तानी में सीएसके की टीम तीन आईपीएल खिताब जीत चुकी है। सीएसके के युवा बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ ने कप्तान धोनी की जमकर तारीफ की है। उन्होंने बताया किस तरह धोनी से बात करने के बाद उनका सोचने का तरीका बदल गया।

IPL 2020 ने तोड़े व्यूवरशिप के रिकॉर्ड, जानें कितने बढ़े दर्शक

23 वर्षीय ऋतुराज गायकवाड़ ने आखिरी तीन आईपीएल मैचों में क्रम से 51, 72 और नॉटआउट 62 रनों की पारी खेली और टीम को जीत दिलाई। डेब्यू मैच में गायकवाड़ बिना खाता खोले आउट हो गए थे और उन्होंने बताया कि कैसे उस पारी के बाद धोनी ने उन्हें प्रेरित किया। उन्होंने स्पोर्ट स्टार पर कहा, ‘मुझे पता था कि मुंबई इंडियंस के खिलाफ मैच में कड़ी चुनौती का सामना करना होगा, मैंने ट्रेंट बोल्ट, जसप्रीत बुमराह और जेम्स पैटिंसन के खिलाफ तैयारी की थी, लेकिन मुझे लगता है कि मेरे आउट होने के बाद हम उबर नहीं सके।’

अश्विन ने किया बड़ा खुलासा, बीच मैदान पर भिड़े थे कोहली और पोंटिंग

उन्होंने कहा, ‘मैं खुद को कोस रहा था कि मैं नई गेंद पर टीम को अच्छी शुरुआत नहीं दे सका। धोनी आए और मुझसे पूछा कि क्या मैं दबाव में था, उन्होंने कहा कि हम तुम पर दबाव नहीं डालना चाहते हैं, लेकिन हमें तुमसे उम्मीदें हैं। मैं बस तुमसे यह कहना चाहता हूं कि तुम आने वाले तीनों मैच खेलोगे, इसमें कोई शक नहीं है, चाहे तुम रन बनाओ या ना बनाओ। तुम इस मैचों में खेल का मजा लो और अपने प्रदर्शन के बारे में मत सोचना। उन्होंने मुझसे खेल का मजा लेने के लिए कहा और उसके बाद मेरे सोचने का तरीका बदल गया। इस बातचीत के बाद सबकुछ बदल गया।’

Source link

Leave a Reply