Only Hindi News Today

DU Admission 2020: दिल्ली विश्वविद्यालय की दूसरी कट-ऑफ के लिए सोमवार से एडमिशन शुरू होंगे। इससे पहले डीयू के कॉलेजों ने पहली कटऑफ में हुए रिकार्ड दाखिले के बाद मामूली कमी के साथ दूसरी कटऑफ शनिवार को निकाली। कई कॉलेजों ने प्रमुख विषयों की कटऑफ में .25 से .5 फीसदी तो कुछ ने अधिकतम 1 फीसदी की कमी की है। 

पहली कटऑफ में राजनीति विज्ञान, मनोविज्ञान और अर्थशास्त्र विषय में 100 फीसदी कटऑफ रखने वाले लेडी श्रीराम कॉलेज फार वुमन में इन विषयों में सामान्य वर्ग में अभी मौके हैं। दूसरी कटऑफ कॉलेज ने मनोविज्ञान व राजनीति विज्ञान विषय में .25 फीसदी तथा अर्थशास्त्र विषय में 1 फीसदी गिराई है। डीयू के आधे कॉलेजों में राजनीति विज्ञान ऑनर्स की सीटें भर चुकी हैं। इसमें नार्थ व साउथ दोनों कैंपस के कॉलेज हैं। 19 अक्टूबर से दूसरी कटऑफ के दाखिले ऑनलाइन ही होंगे। डीयू ने कॉलेज जाने से छात्रों को मना किया है। 
डीयू में 52 कॉलेजों में बीकाम ऑनर्स पढ़ाया जाता है जबकि एक चौथाई कॉलेजों में सामान्य वर्ग में सीटें भर चुकी हैं।  

दूसरी कटऑफ में कई प्रमुख विषयों में सामान्य वर्ग के लिए ही नहीं बल्कि आरक्षित वर्ग के लिए भी मौके कम हैं। कई कॉलेजों ने पहली कटऑफ में ही सीटों से अधिक दाखिले कर चुके हैं। इसमें नार्थ कैंपस के कॉलेज भी हैं। इसलिए उन्होंने दूसरी कटऑफ में मामूली कमी की है। बीकॉम ऑनर्स, बीए प्रोग्राम, राजनीति विज्ञान, इकोनोमिक्स,इंग्लिश, मनोविज्ञान,भूगोल के अलावा विज्ञान विषयों में अधिकांश प्रमुख विषयों में सामान्य ही नहीं आरक्षित वर्ग की भी सीटें भर चुकी हैं। दिल्ली विश्वविद्यालय में ऊंची कटऑफ के बाद भी पहली कटऑफ में ही लगभग 50 फीसदी सीटों पर दाखिला हो चुका है। दाखिले के बाद शनिवार को

डीयू के रामजस कॉलेज में बीए प्रोग्राम के श्रेणी बी और सी में सीटों से लगभग दोगुने दाखिले हुए हैं। यही नहीं राजनीति विज्ञान में दोगुने से अधिक दाखिला की सूचना है। हिंदू कॉलेज, मिरांडा हाउस, एसजीटीबी खालसा सहित कई कॉलेजों ने राजनीति विज्ञान विषय में अपने यहां सामान्य वर्ग में दाखिला बंद कर दिया है। कई कॉलेजों में तो संस्कृत, उर्दू सहित अन्य विषयों में दाखिला बंद हो गया है। 

साइंस के विषयों में भी जल्दी भर गई सीटें
डीयू के अधिकांश कॉलेजों में भी कंप्यूटर साइंस ऑनर्स, फिजिक्स, केमेस्ट्री, बॉटनी सहित अन्य विषयों में सामान्य वर्ग की सीटें भर गई हैं। 22 कॉलेजों में कंप्यूटर साइंस पढ़ाया जाता है जबकि 6 कॉलेजों में सामान्य वर्ग के लिए सीटें नहीं हैं। 

50 फीसद से अधिक हुए पहली कटऑफ में दाखिले : दिल्ली विश्वविद्यालय में पहली कटऑफ के तहत 35655 छात्रों ने विभिन्न विषयों में दाखिला लिया जबकि डीयू में रेगुलर की कुल सीटें लगभग 70 हजार हैं। दूसरी कटऑफ में भी उम्मीद से अधिक दाखिला होने के आसार हैं। 
 

Source link

Leave a Reply