Only Hindi News Today

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अपनी किताब में राहुल गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का किया जिक्र

बराक ओबामा के साथ राहुल गांधी (फाइल फोटो).

वाशिंगटन:

न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अपनी नई प्रकाशित किताब, जो कि एक राजनीतिक संस्मरण है,  “ए प्रॉमिस लैंड” में अमेरिका और अन्य देशों के कई नेताओं के बारे में जिक्र किया है. जिसमें राहुल गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह शामिल हैं. बता दें कि मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार ओबामा के कार्यकाल के दौरान सत्ता में थी.

यह भी पढ़ें

न्यूयॉर्क टाइम्स की समीक्षा के मुताबिक “और फिर उनके जीवनी रेखाचित्र हैं, उनकी संक्षिप्तता और अंतर्दृष्टि और हास्य में निपुणता.” न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार गैलरी में पूर्व रूसी प्रीमियर व्लादिमीर पुतिन, तत्कालीन रक्षा सचिव बॉब गेट्स और अमेरिकी राष्ट्रपति-निर्वाचित जो बिडेन शामिल हैं.

यह भी पढ़ें: मोदी और बाइडन ‘परस्पर सुविधाजनक समय’ पर करेंगे बातचीत : केंद्र

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर, न्यूयॉर्क टाइम्स के लेख में लिखा गया है: ” ऐसा लगता है कि रक्षा सचिव बॉब गेट्स और भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के बीच काफी एकता है.” न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक किताब में राहुल गांधी के बारे में लिखा गया है, ‘उनमें एक नर्वस, अनफ़ॉर्मेंट क्वालिटी है, जैसे कि वह एक छात्र हों जिसने अपना कोर्सवर्क पूरा किया है और शिक्षक को प्रभावित करने के लिए उत्सुक हो लेकिन विषय में महारत हासिल नहीं करना चाहता हो.” 

बता दें कि राहुल गांधी, ओबामा के कार्यकाल के दौरान, कांग्रेस के उपाध्यक्ष थे, जो दिसंबर 2017 में ओबामा की पिछली भारत यात्रा के दौरान उनसे मिले थे. गांधी ने मुलाकात को लेकर ट्वीट भी किया था. राहुल गांधी ने एक तस्वीर के साथ पोस्ट किया था”, राष्ट्रपति ओबामा के साथ शानदार बातचीत हुई.” 

Newsbeep

2015 में,ओबामा गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि थे. यात्रा के दौरान, उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ “मन की बात” की सह-मेजबानी की थी. न्यूयॉर्क टाइम्स की समीक्षा ने अमेरिकी राष्ट्रपति-निर्वाचित जो बिडेन पर ओबामा के उद्धरण को भी उद्धृत किया है. NYT ने आर्टिकल में लिखा है, “जो बिडेन एक सभ्य, ईमानदार, निष्ठावान व्यक्ति हैं, जो ओबामा के होश उड़ा सकता है, अगर उन्हें लगता है कि उन्हें उनका हक नहीं दिया गया. एक गुणवत्ता जो कि बहुत छोटे बॉस के साथ काम करते समय भड़क सकती है.” 

पुतिन के बारे में लिखा गया है, “व्लादिमीर पुतिन शारीरिक रूप से अचूक हैं.’ हू जिंताओ के बारे में, जो 2003 से 2013 तक चीन के राष्ट्रपति थे, एनवाईटी लेख में लिखा गया है: “बैठक में, हू जिंताओ तैयार कागजात पढ़ते थे इसलिए ओबामा ने सुझाव दिया है कि हम एक दूसरे का वक्त बचा सकते हैं. सिर्फ कागजात का आदान-प्रदान करें और उन्हें खाली समय में उन्हें पढ़ें.”  बता दें कि “द प्रॉमिस्ड लैंड” 59 वर्षीय पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा लिखे गए संस्मरण का का पहला भाग है.

Source link

Leave a Reply