Only Hindi News Today

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली41 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पिछले साल सितंबर में IIP में 4.6% गिरावट रही थी

  • IIP के आंकड़ों के मुताबिक सितंबर में मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर में 0.6% गिरावट रही
  • खनन क्षेत्र का उत्पादन हालांकि 1.4% बढ़ा
  • बिजली उत्पादन 4.9% बढ़ा

खनन और बिजली उत्पादन में अच्छी तेजी के बाद भी समूचे औद्योगिक क्षेत्र की विकास दर सितंबर में महज 0.2 फीसदी रही। गुरुवार को जारी सरकारी आंकड़ों के मुताबिक हालांकि कम से कम 5 महीने बाद उद्योग क्षेत्र विकास के दायरे में आया है। इसे महामारी प्रभावित अर्थव्यवस्था में रिकवरी का संकेत समझा जा सकता है।

इंडेक्स ऑफ इंडस्ट्र्रियल प्रॉडक्शन (IIP) के आंकड़ों के मुताबिक सितंबर में मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर में 0.6 फीसदी गिरावट रही। खनन क्षेत्र का उत्पादन हालांकि 1.4 फीसदी बढ़ा। बिजली उत्पादन 4.9 फीसदी बढ़ा। पिछले साल सितंबर में IIP में 4.6 फीसदी गिरावट रही थी।

पाबंदियों में ढील के साथ आर्थिक गतिविधियों में धीरे-धीरे आ रही तेजी

सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि पाबंदियों ढील दिए जाने के बाद आर्थिक गतिविधियों में धीरे-धीरे तेजी आ रही है। मंत्रालय ने यह भी कहा कि महामारी के बाद के IIP आंकड़े की तुलना महामारी से पहले के IIP आंकड़े के साथ करना उचित नहीं होगा।

अपडेट की जा रही है…

Source link

Leave a Reply