Only Hindi News Today

अनुच्छेद 370 हटाने के खिलाफ कश्मीर के नेताओं की तरफ से बैठक शुरू

कश्मीर के नेताओं की तरफ से आपसी विवाद छोड़कर एक मंच पर आने के संकेत (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों ने दलीय मतभेदों को अलग रखते हुए अनुच्छेद 370 (Article 370) हटाने के खिलाफ एकजुट होकर लड़ाई लड़ने का संकेत दिया है. इस मुद्दे पर नेशनल कान्फ्रेंस के पूर्व मुख्यमंत्री फारुक अब्दुल्ला के घर एक बैठक हो रही है. इस बैठक को काफी अहम माना जा रहा है.  बैठक में पीडीपी, पीपुल्स कान्फ्रेंस, लेफ्ट पार्टियों के नेता हिस्सा ले रहे हैं. महबूबा मुफ्ती, सज्जाद लोन और लेफ्ट के यूसुफ तारीगामी बैठक में हिस्सा ले रहे हैं. 

यह भी पढ़ें

पीडीपी की प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की रिहाई के बाद इस बैठक को बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है. इस बैठक में जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35 ए हटाने के खिलाफ चर्चा होगी.  दरअसल, 4 अगस्त 2019 को पूर्व मुख्यमंत्री फारुक अब्दुल्ला (Farooq Abdulla) के गुपकार स्थित आवास पर तमाम दलों की पहली सर्वदलीय बैठक हुई थी.

इसे गुपकार डेक्लरेशन या गुपकार घोषणा कहा गया था. इस नाम से जारी बयान में राज्य की पहचान, स्वायत्तत्ता और उसको मिले विशेष अधिकारों के लिए मिलकर संघर्ष की बात कही गई थी. अगले ही दिन 5 अगस्त 2019 को केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को खत्म करने की घोषणा की थी. इसके तहत राज्य को जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटा गया था.

Source link

Leave a Reply