Only Hindi News Today

नई दिल्ली: बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार ओम पुरी को अपनी एक्टिंग के लिए पूरी दुनिया में जाना जाता है। ओम पुरी का जन्म 18 अक्टूबर 1950 को पटियाला के पंजाबी परिवार में हुआ था। उनका पूरा नाम ओम राजेश पुरी था। ओम पुरी के पिता राजेश पुरी भारतीय रेलवे में काम किया करते थे। एक्टर ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत मराठी फिल्म घासीराम कोतवाल से की थी। आज उनकी बर्थ एनिवर्सरी के मौके पर जानते हैं उनसे जड़े कुछ किस्से-

ड्रग मामले में NCB ने किया MBA के एक छात्र को गिरफ्तार, क्षितिज प्रसाद संग है शख्स का कनेक्शन

खुद की थी अपनी मौत की भविष्यवाणी

बीबीसी के साथ एक इंटरव्यू में ओमपुरी ने अपनी मौत को लेकर बात की थी। साल 2015 में ओमपुरी ने इंटरव्यू में कहा था, ”मृत्यु का तो आपको पता भी नहीं चलेगा। सोए-सोए चल देंगे। (मेरे निधन के बारे में) आपको पता चलेगा कि ओम पुरी का कल सुबह 7 बजकर 22 मिनट पर निधन हो गया।” इस बात को कहकर वो हंस दिए। लेकिन उनके साथ हुआ भी ऐसा ही। ओमपुरी का शव उनके घर में नग्न अवस्था में मिला था। उन्हें हार्ट अटैक पड़ा था जिसके कारण उनका निधन हो गया।

शराब के ग्लास संग एक्ट्रेस Lara Dutta ने दी नवरात्रि की शुभकामनाएं, तस्वीर देख भड़के लोग

अर्ध सत्य से मिली पहचान

ओमपुरी ने मराठी फिल्म ‘घासीराम कोतवाल’ से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी। लेकिन उन्हें पॉपुलैरिटी साल 1983 में रिलीज हुई फिल्म ‘अर्ध सत्य’ से मिली। इस फिल्म के लिए उन्हें नेशनल अवॉर्ड भी मिला था। उनका जीवन बेहद गरीबी में बिता था। वह महज छह साल की उम्र में टी स्टॉल पर चाय के बर्तन साफ किया करते थे। लेकिन एक्टिंग के कारण वह नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में गए। जिसके बाद साल 1988 में उन्होंने दूरदर्शन की मशहूर टीवी सीरीज ‘भारत एक खोज’ में कई रोल किए और ऑडियंस ने उन्हें काफी पसंद भी किया।

साल 2009 में ओम पुरी की दूसरी पत्नी नंदिता पुरी की लिखी उनकी जीवनी ‘अनलाइकली हीरो : द स्टोरी ऑफ ओम पुरी’ छपी थी। इस किताब में जो लिखा गया था उसने ओमपुरी की जिंदगी को काफी प्रभावित किया। किताब में लिखा था कि ओम पुरी के कई महिलाओं के साथ रिलेशन थे। जिसके बाद एक्टर ने कहा था कि नंदिता ने इन बातों के जरिए उनके चाहने वालों के बीच उनकी छवि को खराब कर दिया।



Source link

Leave a Reply