Only Hindi News Today

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर 23 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिहार में तीन चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे। इस दौरान वे बिहार में लगभग सवा सात घंटे रहेंगे। भागलपुर के साथ ही गया और सासाराम में भी वे सभा को संबोधित करेंगे। इस दौरान आतंकी संगठनों और नक्सलियों से उनकी सुरक्षा को खतरा को देखते हुए पुलिस मुख्यालय से आईजी (सुरक्षा) ने तीनों जिलों के डीएम और एसपी के अलावा अन्य वरीय अधिकारियों को अलर्ट किया है।

आतंकी संगठनों और नक्सलियों पर रहेगी नजर
प्रधानमंत्री की सुरक्षा को लेकर कवायद शुरू कर दी गयी है। पुलिस मुख्यालय से आईजी (सुरक्षा) ने संबंधित जिलों को अलर्ट करते हुए कई आतंकी संगठनों और नक्सलियों से पीएम की सुरक्षा को खतरा बताते हुए कड़ी नजर रखने को कहा है। उन्होंने पाकिस्तानी मूल के रसूलपति और शाहिद उर्फ बिलाल और उनके सहयोगियों द्वारा विस्फोटक वाहन पीएम के कारकेड में शामिल करने और आईडी के इस्तेमाल किये जाने की आशंका जताई है। यह भी कहा गया है कि केएलएफ के आतंकी कश्मीर सिंह के भी बिहार में छुपे होने की आशंका है, इसलिए सतर्कता जरूरी है। कहा गया है कि आतंकी सुरक्षा बलों और पुलिस की वर्दी भी पहनकर आ सकते हैं। नक्सलियों और उल्फा से भी पीएम की सुरक्षा को खतरा बताया गया है।

तीनों ही जगह 45-45 मिनट चुनावी सभा को संबोधित करेंगे पीएम
पीएम 23 अक्टूबर को सुबह लगभग साढ़े नौ बजे गया पहुंच जायेंगे। वहां से सासाराम के लिए रवाना होंगे। सासाराम में सुबह लगभग साढ़े दस बजे से उनका संबोधन शुरू होगा जो 45 मिनट का होगा। वहां से गया के लिए रवाना हो जायेंगे। गया में दोपहर लगभग सवा बारह बजे से एक बजे तक वे चुनावी सभा को संबोधित करेंगे। गया में चुनावी सभा को संबोधित करने के बाद वे भागलपुर के लिए रवाना होंगे। वे दोपहर लगभग ढाई बजे भागलपुर हवाई अड्डा परिसर पहुंच जायेंगे। दोपहर 2.40 से 3.25 तक वे यहां चुनावी सभा को संबोधित करेंगे। यहां से गया के लिए रवाना होंगे और गया से शाम 4.55 बजे दिल्ली के लिए रवाना हो जायेंगे।

कार्यक्रम स्थल और हेलीपैड की सुरक्षा को आईपीएस तैनात
प्रधानमंत्री की भागलपुर, सासाराम और गया में होने वाली चुनावी सभा में उनके हेलीपैड और आसपास एडवांस सिक्योरिटी लायजनिंग (एएसएल) के लिए तीन आईपीएस अधिकारियों की प्रतिनियुक्ति पुलिस मुख्यालय ने की है। भागलपुर में आईपीएस पंकज राज, गया में आईपीएस संजय कुमार सिंह और सासाराम में आईपीएस आदित्य राज की प्रतिनियुक्ति की गयी है।

यह भी पढ़ें- RJD ने RSS-BJP से कभी समझौता नहीं किया, ईमान बेचकर CM बनने की चाहत नहीं- तेजस्वी यादव

सुरक्षा पूरी तरह से चाक-चौबंद रहेगी। रविवार को सभास्थल का जायजा लिया गया है। कार्यक्रम के आयोजक को सुरक्षा और कोविड-19 को लेकर गाइडलाइन का पूरी तरह से पालन करने को कहा गया है। पुलिस पदाधिकारियों को कार्यभार दिया गया है।- आशीष भारती, एसएसपी

यह भी पढ़ें- बिहार की विकास दर देश में सबसे ज्यादा, जंगलराज व नक्सलवाद से सूबे को निकाला : CM नीतीश

Source link

Leave a Reply