Only Hindi News Today

UP BEd Admission 2020 Counselling date: लखनऊ विश्वविद्यालय ने उत्तर प्रदेश के बीएड संस्थानों में दाखिले के लिए 19 अक्टूबर से होने वाली यूपी बीएड काउंसलिंग स्थगित कर दी है. लखनऊ विश्वविद्यालय ने यूपी बीएड काउंसलिंग स्थगित करने की सूचना शनिवार को दी. एलयू प्रशासन ने काउंसलिंग को टालने का कोई कारण स्पष्ट नहीं किया है. जानकारों के अनुसार बीएड काउंसलिंग के लिए स्नातक के फाइनल ईयर की मार्कशीट अनिवार्य कर दी गई थी.

इसके बावत कुछ दिन पहले लखनऊ विश्वविद्यालय ने कहा था कि बीएड काउंसलिंग के लिए यूजी के अंतिम वर्ष की मार्कशीट अनिवार्य होगी. ऐसे में कई राज्य विश्वविद्यालय ऐसे हैं जिनके यहाँ अभी तक  स्नातक के अंतिम वर्ष का रिजल्ट नहीं घोषित किया गया है. जिससे उन स्टूडेंट्स के पास अंतिम वर्ष की मार्कशीट नहीं होगी जो इस विश्वविद्यालय में या इससे संबद्ध डिग्री कॉलेज में पढाई कर रहें हैं. इसको लेकर काफी स्टूडेंट्स परेशान हैं. स्टूडेंट्स की ओर से बराबर यह मांग की जा रही है कि यूपी बीएड की काउंसलिंग टाल दी जाये.

आपको बतादें कि इसके पहले यूपी बीएड की काउंसलिंग सितंबर माह के तीसरे सप्ताह में आयोजित की जानी थी परन्तु बाद में इसे स्थगित कर दी गई.  उस समय भी कुछ विश्वविद्यालयों में स्नातक के फाइनल ईयर की परीक्षाएं नहीं हुई थी जिसके कारण इसे बीएड काउंसलिंग को टाल दिया गया था.

विदित है कि इस काउंसिलिंग के माध्यम से यूपी के विभिन्न बीएड संस्थानों में बीएड की दो लाख से ज्यादा सीटें हैं जिन पर दाखिला होना है.

काउंसलिंग में हुए थे कई परिवर्तन

इस बार काउंसलिंग में कई परिवर्तन किये गए हैं. प्रवक्ता डॉ. दुर्गेश श्रीवास्तव ने बताया कि इस बार शून्य शुल्क की सुविधा केवल सरकारी एवं अनुदानित महाविद्यालयों में दी जाएगी. ईडब्ल्यूएस की सुविधा सरकारी, अनुदानित एवं गैर अनुदानित महाविद्यालयों में होगी. यह सुविधा अल्पसंख्यक संस्थानों में नहीं होगी. अभ्यर्थी काउंसलिंग के समय अपने सभी मूल प्रमाणपत्र साथ लेकर आयें.

Source link

Leave a Reply