Only Hindi News Today

बीबीसी हिंदी, Updated Sat, 25 Jul 2020 12:53 AM IST

दूसरे विश्व युद्ध के दौरान दुनिया की बस एक उम्मीद थी, ये खत्म कब होगा। 75 साल बाद वैसा ही मंजर फिर दिखा है जब सभी कोरोना वायरस के खात्मे की आस लगाए बैठे हैं। दुनिया भर में डेढ़ करोड़ से ज्यादा संक्रमण के मामले हैं और छह लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। इसमें से 12 लाख से ज्यादा केस तो भारत में ही हैं। जाहिर है, सबकी निगाहें कोरोना वायरस की वैक्सीन पर हैं जिसे भारत समेत कई देश बनाने की कोशिश में हैं। दर्जनों क्लीनिकल ट्रायल हो रहे हैं और कुछ देशों में ये ट्रायल दूसरे फेज में पहुंच भी चुके हैं। उम्मीद है कि साल के अंत तक एक वैक्सीन तैयार हो सकती है। लेकिन अगर ये वैक्सीन बन भी गई तो दुनिया के हर कोने तक पहुंच कैसे सकेगी?

Source link

Leave a Reply